उसके अंदर शुक्राणु का एक भार हो जाता है